क्या है BJP उम्मीदवार हेमा जया और स्मृति ईरानी की खासियत, बुजुर्ग मुँह ताकते रह गए और इन्हें मिली टिकट

loading...

BJP उम्मीदवार हेमा ,जया ,और स्मृति ईरानी ये तीनो उत्तरप्रदेश के मथुरा , रामपुर और अमेठी से लोकसभा चुनाव लड़ रही हैं । यूं तो इन तीनो में कई समानताएं हैं ।तीनो की तीनों प्रसिद्ध अभिनेत्रियां हैं और वर्तमान में BJP का खास चेहरा भी।तीनो चेहरे राजनीति में अहम भूमिका रखती हैं। इन सब के अलावा अगर इन तीनो के व्यक्तिगत जीवन की चर्चा की जाए तो एक बड़ी समानता इन तीनो में उभर कर आती है वो ये की तीनों ने जिस व्यक्ति से विवाह किया है ,वो व्यक्ति पहले से शादीशुदा और बच्चों के पिता रहे हैं। यानी ये तीनो अभिनेत्रियां अपने निजी जिंदगी में अपने पति की दूसरी पत्नी रही हैं।

हेमा मालिनी

BJP उम्मीदवार हेमा मालिनी हिन्दी फ़िल्मजगत की प्रसिद्ध अभिनेत्री हैं। सिनेमा जगत में इन्हें पहचान की ज़रूरत नही।इन्होंने अपने फ़िल्म कैरियर की शुरुआत राज कपूर के साथ फ़िल्मसपनों का सौदागर से की। 1981 में इन्होंने अभिनेता धर्मेन्द्र से विवाह किया। ये अब भी फ़िल्मों में सक्रिय हैं। ये भारतीय जनता पार्टी के सहयोग से राज्यसभा की सांसद चुनी गईं हैं।वर्तमान में ये लोकसभा चुनाव लड़ रही हैं।

loading...

loading...

हेमा का राजनैतिक सफर

ड्रीम गर्ल  हेमा मालिनी पिछले कुछ सालों से अपने राजनीतिक सफर में बेहद सादगी भरे अंदाज से निरन्तर आगे बढ़ती नजर रही हैं. लोकसभा चुनाव 2014 में मथुरा से पहली बार सांसद बनीं हेमा मालिनी को एक बार फिर उसी सीट से चुनाव लड़ने के लिए बीजेपी ने मौका दिया है. इस बार भी हेमा मालिनी मथुरा से लोकसभा चुनाव लड़ेंगी।हेमा मालिनी ने पहले चरण के आखिरी नामांकन के लिए पर्चा दाखिल किया. उससे पहले उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ मथुरा के बांके बिहारी मंदिर में पूजा अर्चना की.

चाहे फिल्मी दुनिया हो या राजनीति की दुनिया।हेमा दोनो ही क्षेत्र में बढ़ती चली गयी।सक्रिय राजनीति में हेमा मालिनी साल 2004 में भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुईं और फिर पार्टी के सहयोग से राज्यसभा की सदस्य भी बनीं. 2010 में वह भारतीय जनता पार्टी की महासचिव भी बनीं.

BJP स्टार प्रचारक हेमा मालिनी के अपने संसदीय क्षेत्र मथुरा के गेहूं के खेत की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। विपक्षी इसे चुनावी स्टंट बता रहे हैं , जबकि इनके समर्थक हेमा के तारीफों के पुल बांध रहे हैं।

हेमा का व्यक्तिगत जीवन

बॉलीवुड अभ‍िनेता धर्मेंद्र और हेमा माल‍िनी की लव स्‍टोरी के क‍िस्‍से आपने सुनें होंगे। 82 साल के हो चुके धर्मेंद्र हेमा माल‍िनी से 13 साल बड़े हैं। इन दोनों की लव स्‍टोरी काफी द‍िलचस्‍प रही। शायद ही आपको पता होगा क‍ि धर्मेंद्र ने हेमा से शादी धर्म और नाम बदल कर की थी।अभ‍िनेता धर्मेंद्र की शादी फ‍िल्‍मों में आने से पहले प्रकाश कौर से हो चुकी थी। धर्मेंद्र ने 1958 में फ‍िल्‍मों में आए। उनकी पहली फ‍िल्‍म थी द‍िल भी तेरा हम भी तेरे। वहीं हेमा माल‍िनी की पहली फ‍िल्‍म थी सपनों का सौदागर जोकि 1968 में आई थी। 1970 में धर्मेंद्र और हेमा माल‍िनी पहली बार स्‍क्रीन पर साथ आए फ‍िल्‍म शराफत और तुम हसीन मैं जवां। इसके बाद दोनों के बीच करीबी की खबरें आने लगीं।

 

जया प्रदा

जानी मानी अभिनेत्री जया पर्दा लोकप्रिय राजनीतिक चेहरा भी मानी जाती है।2019 में जया ने BJP जॉइन कर लिया है और ये UP के रामपुर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ेंगी।

जयाप्रदा को सन् 1994 में N. T रामाराव ने तेलगु देशम में प्रवर्तित किया। बाद में उन्होंने रामराव से नाता तोड़ लिया और पार्टी के चंद्रबाबू नायडु वाले गुट में शामिल हो गईं। सन् 1996 में उन्हें आंध्र प्रदेश का प्रतिनिधित्व करने के लिए राज्य सभा में मनोनीत किया गया। पार्टी प्रमुख चंद्रबाबू नायडू के साथ मतभेदों के कारण, उन्होंने तेदेपा को छोड़ दिया और  में शामिल हो गईं तथा सन् 2004 के आम चुनावों के दौरान रामपुर संसदीय निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव लड़ा और सफल रहीं। उन्हें लोकसभा के अपने अभियान के दौरान, रामपुर स्वर इलाक़े की महिलाओं को बिंदी वितरण द्वारा आचार संहिता का उल्लंघन करने के लिए, निर्वाचन आयोग द्वारा एक नोटिस जारी किया गया। वे दुबारा 30,000 से भी ज़्यादा वोटों से चुनी गईं। जया प्रदा वर्ष 2019 में लोकसभा चुनाव से पहले BJP में शामिल हो गई।

जया पर्दा का व्यक्तिगत जीवन

1986 में, उन्होंने प्रोड्यूसर श्रीकान्त नाहटा से शादी की, जो पहले से ही चंद्रा के साथ विवाहित थे, जिनके साथ उनके 3 बच्चे हुए, कहने की ज़रूरत नहीं है। इस शादी ने काफ़ी विवादों को जन्म दिया, विशेषकर इसलिए कि नाहटा ने अपनी वर्तमान पत्नी को तलाक़ नहीं दिया और अपनी पहली पत्नी के साथ, जयाप्रदा से शादी करने के बाद भी बच्चे पैदा किए। जयाप्रदा और श्रीकांत के कोई बच्चे नहीं हैं, लेकिन जयाप्रदा ने संतान की इच्छा व्यक्त की है। जयाप्रदा और उनके पति की पहली पत्नी, दोनों, स्नेहपूर्ण तरीक़े से पति साझा करने के लिए सहमत हुए हैं।

स्मृति ईरानी

 स्मृति ईरानी अमेठी से चुनाव लड़ेंगी जहां उनका सीधा मुकाबला कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से होगा.BJP की स्टार प्रचारक और मोदी की मित्रता से हमेशा चर्चा में बनी रहने वाली स्मृति ईरानी का पहले बीजेपी के साथ उनका रिश्ता पहले सौहार्दपूर्ण नहीं था।

2004 में, ईरानी ने 2002 के गुजरात के गोधरा कांड के संबंध में मोदी के इस्तीफे की मांग की थी।किसी ने ये उस वक़्त ये सोचा भी नही होगा कि वही स्मृति ईरानी आज BJP का लोकप्रिय चेहरा बन जाएगी।

स्मृति का राजनैतिक जीवन

अभिनेत्री ने राजनीति का दामन 2003 में थामा ।स्मृति ज़ुबिन ईरानी का राजनीतिक जीवन वर्ष 2003 में तब शुरू हुआ जब उन्होंने  BJP (भाजपा) की सदस्यता ग्रहण की और दिल्ली के चांदनी चौक से चुनाव लड़ा। हालांकि वे  कांग्रेस के उम्मीदवार और पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल से हार गईं। लेकिन स्मृति राजनीति में सक्रिय रहीं।वर्ष 2004 में इन्हें महाराष्ट्र यूथ विंग का उपाध्यक्ष बनाया गया। इन्हें पार्टी ने पांच बार केंद्रीय समिति के कार्यकारी सदस्य के रूप में मनोनीत किया और राष्ट्रीय सचिव के रूप में भी नियुक्त किया। वर्ष 2010 में उन्हें भाजपा महिला मोर्चा की कमान सौंपी गई। वर्ष 2011 में वे गुजरात से राज्यसभा की सांसद चुनी गई। इसी वर्ष इनको हिमाचल प्रदेश में महिला मोर्चे की भी कमान सौंप दी गई।इसके बाद राजनीति में स्मृति कभी पीछे मुड़ कर नही देखी।

स्मृति ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और आम आदमी पार्टी के नेता कुमार विश्वास के खिलाफ अमेठी से चुनाव लड़ा और उन्हें कड़ी चुनौती दी। हालांकि वे यह भी चुनाव हार गईं, लेकिन राज्यसभा की सदस्य होने के नाते उन्हें भारत सरकार में मंत्री बनाया गया।

व्यक्तिगत जीवन

वर्ष-2001 में स्मृति ने जुबिन ईरानी पारसी से शादी की। स्मृति ईरानी ज़ुबिन ईरानी की दूसरी पत्नी हैं । विवाह पूर्व स्मृति ईरानी का नाम स्मृति मल्होत्रा था।उनके तीन बचे हैं – ज़ोहर ईरानी, ज़ोइश ईरानी, और चॅनेले ईरानी। वे ‘शेनियल’ की सौतेली माँ भी है जो उनके पति जुबिन ईरानी और उनकी पूर्व पत्नी मोना ईरानी की पुत्री है।उसके दोनों बच्चे पारसी हैं।

loading...