स्मृति ईरानी का पति नहीं है हिंदू, फिर क्यों लगाती हैं माँग में सिंदूर

loading...

इस समय भारत की राजनीति में गोत्र एक बड़ा मुद्दा बना हुआ है. आपको बता दे मध्य प्रदेश में चुनावी दौरे के समय एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने राहुल से पूछा था, “हम राहुल गांधी से पूछना चाहते हैं कि आप जनेऊधारी हैं? आप कैसे जनेऊधारी हैं क्या गोत्र है आपका?”

हालाँकि बाद में राहुल ने अपने गोत्र के बारे में जानकारी देते हुए पुजारी से कहा कि वह कौल यानी कश्मीरी ब्राह्मण हैं।उनका गोत्र दत्तात्रय है। बाद इसके उन्होंने पूजा की थी।

loading...

ऐसे में अब पात्रा के बाद सोशल मीडिया पर जनता पात्रा को मोदी की करीबी स्मृति इरानी को लेकर ट्रोल कर रहे हैं. बता दें कि भारतीय जनता पार्टी में सुषमा स्वराज के बाद स्मृति ईरानी को सबसे तेजऔर कुशल वक्ता के तौर पर जाना जाता है। लेकिन 2014 के लोकसभा चुनाव में राहुल गांधी से हार का सामना करना पड़ा. हालाँकि बावजूद इसके सरकार बनने के बाद उन्हें मंत्री पद से नवाज़ा गया था.

loading...

पारसी से किया हैं स्मृति ने प्रेम विवाह

लेकिन शायद कम ही लोगो को पता होगाकि स्मृति ने पारसी से प्रेम विवाह किया है और उन्ही के नाम का अपनी मांग में सिंदूर लगाती हैं। आखिर इसके पीछे का राज खुद स्मृति ईरानी ने ही खोल दिया है।

जुबिन ईरानी की दूसरी पत्नी है स्मृति ईरानी

भाजपा मंत्री स्मृति ईरानी ने जुबिन ईरानी से प्रेम विवाह किया है। दोनों एक दूसरे पहले से जानते थे। स्मृति की सहेली मोना से जुबिन ने पहली शादी की थी। इसके बाद मोना को तलाक देकर साल 2001 में दोनों ने शादी कर ली थी। जुबिन पेशे से बिजनेस  मैन हैं और करोड़पति हैं।

पति और बच्चे पारसी लेकिन स्मृति ने खुद को बताया हिन्दू

स्मृति ईरानी ने बुधवार को सिंदूर  लगाने का राज ट्विटर पर खोला। उनका कहना है कि उनके पति और बच्चे पारसी धर्म केहैं। लेकिन वो हिन्दू धर्म को मानती हैं। इसलिए पति पारसी होते हुए भी वो अपनी मांग में सिंदूर लगाती हैं। ये उनकी हिन्दू धर्म में आस्था को दिखाता है।

loading...