मोदी सरकार में एक और उधोगपति 8000 करोङ लेकर हुआ फरार, बीजेपी से लङ चुका है चुनाव।

मोदी के कुशल नेतृत्व मे एक और मोदी 8000 करोङ लेकर फरार, बीजेपी से लङ चुका है चुनाव। ललित मोदी, विजय माल्या, नीरव मोदी, मेहुल चौकसी, जतिन मेहता, विक्रम कोठारी, वेणुगोपाल धूत, एस कुमार, पी एन अग्रवाल, राकेश शर्मा, आशू अरोड़ा, भूपेश जैन की सीरीज में एक नाम और नोट कर लीजिए। या यूँ कहिये चोर मोदियो में एक और चोर मोदी का नाम एड कर लीजिए। ये जनाब हैं राजस्थान के मुकेश मोदी।

इन मोदी जी का परिचय जान लीजिए। मुकेश मोदी के पिता आरएसएस से जुड़े हुए हैं और 2014 के लोकसभा चुनाव में इन्हें टिकट मिलते मिलते रह गया था। मुकेश मोदी की देश में आदर्श क्रेडिट कॉपरेटिव सोसायटी के नाम से 809 शाखायें हैं। इस सोसायटी ने कुछ ही वर्षों में अपने साढ़े तीन लाख एजेंटों के माध्यम से निवेशकों का धन 5 साल में दोगुना करने का लालच देकर 20 लाख सदस्य बनाए हैं।

कम्पनी की बेवसाइट के अनुसार अब तक इन 20 लाख लोगों के 8 अरब 410 करोड़ जमा हो चुके हैं। कपंनी की पॉलिसी के हिसाब से ब्याज जोड़ लिया जाए तो ये रकम लगभग 13 हजार से 15 हजार करोड़ तक अनुमानित हैं। फिलहाल ये मुकेश मोदी लापता हैं। निवेशकों को पैसा वापस मांगने पर उनके कुल जमा धन का आधा लोन के रूप में दिए जाने की बात सामने आई है।

मुकेश मोदी के रिश्तेदारों की कुल 87 कम्पनियां फर्जी है। जिन्हें इस सोसायटी द्वारा करोड़ो का लोन दिया गया, जिसका डूबना पूर्वनियोजित है। मुकेश मोदी के इस कारनामें से भारत सरकार को 30 हजार करोड़ की चपत लगना तय है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*